प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना

हर साल 11 अप्रैल को राष्ट्रीय मातृत्व सुरक्षा दिवस मनाया जाता है। इस दिन विशेष तौर पर गर्भवती महिलाओं को जागरूक किया जाता है, ताकि गर्भावस्था के समय महिलाएं अपनी सेहत का ध्यान रखते हुए स्वस्थ बच्चे को जन्म दे सके। अक्सर ऐसा होता है कि मजदूरी करने वाली गर्भवती महिलाएं अपने काम की वजह से स्वास्थ्य पर ध्यान नहीं दे पाती हैं, जिस कारण उन्हें गर्भावस्था के समय काफी ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है और इस वजह से मां-बच्चे दोनों की सेहत पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। सुरक्षित मातृत्व और सुरक्षित भविष्य के उद्देश्य की पूर्ति हेतु हर साल राष्ट्रीय स्तर पर मातृत्व सुरक्षा दिवस मनाया जाता है। इस दिन शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाली गर्भवती महिलाओं को प्रसव से पहले गुणवत्तायुक्त पोषण ग्रहण करने व स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए जागरूक किया जाता है। मातृत्व को स्वस्थ व सुरक्षित रखने के उद्देश्य से ही देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने वर्ष 2016 में प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान की शुरुआत की। इसी के तहत 2019 में सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना और मातृत्व वंदना योजना भी चलाई जा रही है। उपरोक्त योजनाओं के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधाओं का लाभ दिया जाता है। प्रधानमंत्री मोदी जी ने कार्यरत गर्भवती महिलाओं को कार्यक्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा मैटरनिटी लीव की सुविधा भी प्रदान की है। इसी तरह से प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना भी गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने की एक अनोखी पहल है, जिसके माध्यम से सरकार द्वारा मजदूरी व छोटे-मोटे कार्य करने वाली महिलाओं को चिकित्सा केंद्र पर जाकर मुफ्त जांच व इलाज की सुविधा मिलती है। इस योजना के अंतर्गत नि:शुल्क इलाज पाने के लिए गर्भवती महिलाओं को नजदीकी चिकित्सा केंद्र में जाकर अपना पंजीकरण कराना होता है। इसके बाद गर्भवती महिलाएं हर महीने की 9 तारीख को स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर डिलीवरी तक मुफ्त इलाज और जांच आदि करा सकती हैं। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना के तहत गर्भवती महिलाएं हीमोग्लोबिन, ब्लड टेस्ट, यूरिन टेस्ट, अल्ट्रासाउंड आदि टेस्ट फ्री में करा सकती हैं। इस योजना के अंतर्गत देश के किसी भी निजी या सरकारी अस्पताल में जाकर लाभार्थी गर्भवती महिला नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधा का लाभ उठा सकती हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की इस योजना का क्रियान्वन स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है। अब तक मोदी सरकार की इस योजना का लाभ एक करोड़ से अधिक महिलाओं को प्राप्त हो चुका है। मोदी सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के माध्यम से मातृत्व को सुरक्षित व स्वस्थ जीवन का वरदान मिल रहा है। इसके साथ ही उच्च जोखिम वाली गर्भवती महिलाओं को इस योजना के अंतर्गत व्यापक और उच्च गुणवत्ता युक्त प्रसव से पहले उचित देखभाल प्रदान की जा रही है, ताकि जन्म लेने वाली संतान व जन्म देने वाली माता दोनों के स्वास्थ्य को सुरक्षित भविष्य प्रदान किया जा सके। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को अनुभवी चिकित्सा अधिकारियों द्वारा इलाज प्रदान किया जाता है, इस दौरान गर्भवती महिलाएं डॉक्टर से अपनी स्वास्थ्य से जुड़ी जरूरी बातों का फॉलोअप भी ले सकती हैं। विशेष तौर पर केंद्र सरकार द्वारा इस अभियान की शुरुआत कामगार गर्भवती महिलाओं को आर्थिक और सामाजिक तौर पर स्वतंत्रता प्रदान करने के उद्देश्य से की गई है, ताकि गर्भधारण के दिनों में काम करने वाली महिलाओं की मजदूरी की भरपाई की जा सके और गर्भवती महिलाओं को उचित पोषण व बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर उन्हें सुरक्षित मातृत्व का एहसास कराया जा सके। केंद्र की मोदी सरकार ने देश के विभिन्न जरूरतमंद लोगों के लिए अनेक महत्वपूर्ण व जन कल्याणकारी योजनाएं शुरू की है, जिनमें से प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान भी एक है। जिसका प्रमुख उद्देश्य भारत के दूर-दराज व पिछड़े इलाकों में रहने वाली गर्भवती महिलाओं के हित को पूर्ण करना है, क्योंकि कई बार बेहतर इलाज और जागरूकता की कमी के चलते गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य से जुड़ी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है, जिस कारण वह स्वस्थ बच्चे को जन्म देने में असमर्थ होती हैं। इस प्रकार भारत में बढ़ती मृत्यु दर को रोकने के उद्देश्य से भी प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान एक महत्वपूर्ण पहल है, जिसके माध्यम से आर्थिक व सामाजिक रूप से पिछड़ी व कमजोर गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य जांच, काउंसलिंग, उपचार आदि की सुविधा प्रदान की जाती है, ताकि वह अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाते हुए आने वाली पीढ़ी को जीवन दान दे सके। प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान से जुड़ी अन्य जरूरी जानकारी पाने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर सकते हैं या दिए गए नंबर पर 5616115 कॉल करके भी आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। pmsma.nhp.gov.in https://suman.mohfw.gov.in/

टिप्पणी करें

Search

© Copyright 2024 Lokpahal.org | Developed and Maintained By Fooracles

( उ.  प्र.)  चुनावी  सर्वेक्षण  2022
close slider