पारदर्शी किसान सेवा योजना

भारत एक कृषि प्रधान देश है, जिस वजह से यहाँ बड़े स्तर पर कृषि-कार्य होता है। भारत की आबादी का एक बड़ा हिस्सा कृषि करके अपना जीवनयापन करता है। परंतु वर्तमान समय में भारतीय किसानों की स्थिति संतोषजनक नहीं है। किसानों की स्थिति को सुधारने हेतु उत्तर प्रदेश में योगी सरकार द्वारा कई महत्वपूर्ण योजनाओं का शुभारम्भ किया गया है, जिनमें से एक है- पारदर्शी किसान सेवा योजना। कोरोना महामारी की  वजह से किसानों को काफी आर्थिक हानि का सामना करना पड़ा, जिसकी भरपाई करने के लिए इस योजना को प्रारंभ किया गया । यह योजना उत्तर प्रदेश के कृषि विभाग और राज्य सरकार द्वारा किसानों को लाभ पहुँचाने के लिए संचालित की जा रही है।

इस योजना के माध्यम से राज्य सरकार सभी किसानों को आर्थिक रूप से सुदृढ़ करने के लिए अनुदान राशि प्रदान करेगी जिसका उपयोग किसान, कृषि क्षेत्र में उत्पादकता बढ़ाने के लिए कर सकेंगे। यह अनुदान राशि कृषि विभाग एवं उद्यान विभाग से सीधे किसान भाइयों के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से स्थानांतरित की जाएगी। यह अनुदान राशि किसान भाइयों को नवीन तकनीक जैसे- सोलर पंप, प्रमाणित बीज, कृषि उपकरण, रासायनिक उर्वरक, कृषि रक्षा रसायन और सेवाओं के उपयोग आदि के क्रय करने के लगभग 10 कार्यदिवस के भीतर बैंक खाते में प्राप्त हो जाएगी। इस योजना के तहत राज्य सरकार सभी किसानों को आर्थिक व तकनीकी रूप से आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रयत्नशील है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना का मुख्य उद्देश्य है,उत्तर प्रदेश के किसानों की कृषि उत्पादकता में वृद्धि करना, कृषि उत्पादन की विकास-दर को गति प्रदान करना, खाद्य सुरक्षा प्रदान करने हेतु कृषि की नवीन तकनीकों का प्रचार-प्रसार करना  तथा किसानों की कृषि से संबंधित समस्याओं का समाधान करना | इस योजना से किसानों की आर्थिक स्थिति मे सुधार अवश्य आएगा जिसके फलस्वरूप उनके जीवन स्तर को ऊपर उठाया जा सकेगा ।

इसके अलावा प्रदेश की अनुत्पादक भूमि जैसे- ऊसर, बंजर, बीहड़, जलमग्न आदि को उपचारित करके कृषि क्षेत्रफल में वृद्धि करते हुए उपजाऊ बनाना और क्षेत्रीय असंतुलन को दूर करने के लिए क्षेत्र विशेष हेतु उपयुक्त योजनाओं का क्रियान्वयन एवं किसानों को रोजगार के नये अवसर प्रदान करना है| साथ ही कृषि निवेशों की आपूर्ति निर्धारित समय-सारिणी के अनुरुप किसान भाइयों के बीच उपलब्ध कराना। इस योजना के जरिए किसान भाई नवीन तकनीक का इस्तेमाल करके कृषि उत्पादकता की गुणवत्ता बेहतर कर अपनी आय में वृद्धि कर सकेंगे।

यूपी पारदर्शी किसान सेवा योजना का लाभ किसान भाइयों को प्रदान करने हेतु राज्य सरकार ने एक ऑनलाइन पोर्टल upagripardarshi.gov.in की शुरूआत की है जिसका उपयोग पोर्टल पर पंजीकृत सभी किसान भाई कर सकते हैं। इस पोर्टल पर उपलब्ध अन्य सेवाओं जैसे- बीजों का परीक्षण, खेती के उन्नतशील तरीके, मृदा परीक्षण, फसलों के कीट एवं रोग निवारण, किसान क्रेडिट कार्ड, असली खाद की पहचान, कृषि उपयोगी यंत्र, किसानों को देय सुविधाएँ, किस माह में क्या करे, प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन, कृषि से संबंधित विशेष कार्यक्रम, प्रश्नोत्तरी आदि का लाभ भी किसान भाई ले सकते हैं।

पारदर्शी किसान सेवा योजना का लाभ लेने के लिए किसान भाइयों के पास निम्न दस्तावेज होने चाहिए- निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, बैंक पासबुक, राशन कार्ड, खतौनी की नकल, मोबाइल नंबर आदि। इस योजना से जुड़ने के लिए उत्तर प्रदेश के कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट upagriculture.com पर जाना होगा। योजना के अंतर्गत यदि किसी किसान भाई को ऑनलाइन पोर्टल पर किसी तरह की समस्या होती है तो वह ऑनलाइन शिकायत दर्ज कर उसका समाधान प्राप्त कर सकते हैँ।

टिप्पणी करें

( उ.  प्र.)  चुनावी  सर्वेक्षण  2022
close slider